NCB Special Investigation Team: आर्यन खान के पास से बरामद ही नहीं हुआ ड्रग्स, वो इसके लेन-देन से जुड़े नेटवर्क का नहीं थे हिस्सा

NCB Special Investigation Team: आर्यन खान के पास से बरामद ही नहीं हुआ ड्रग्स, वो इसके लेन-देन से जुड़े नेटवर्क का नहीं थे हिस्सा

विजय पगारे ने 4 नवंबर को मुंबई पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) को अपना बयान दर्ज कराया था और दावा किया था कि 2 अक्टूबर क्रूज पर छापेमारी पूर्व नियोजित थी और आर्यन खान को पैसों के लिए कुछ लोगों के जरिए फंसाया गया था.
आर्यन खानImage Credit source: इंस्टाग्रामबीते साल शाह रुख खान (Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) पर ड्रग्स (Drugs) लेने के चार्जेज ने बॉलीवुड में तहलका मचा दिया था. इस खबर की हर जगह चर्चा थी. ड्रग्स केस में नाम आने के बाद आर्यन खान को मुंबई की आर्थर रोड जेल में 28 दिन गुजारने पड़े थे. दरअसल, आर्यन खान को 3 अक्टूबर 2021 को मुंबई से गोवा जा रहे क्रूज पर चल रही ड्रग्स पार्टी के मामले में एनसीबी (NCB) के जरिए छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया था. और इस मामले में आर्यन खान की चार बार याचिका भी खारिज की गई थी, जिसके बाद उन्होंने बॉम्बे हाईकोर्ट का रुख किया था, जहां से उन्हें जमानत मिल गई थी. लेकिन अब इस मामले में एक और अहम जानकारी निकलकर सामने आ रही है.
आपको जानकर ताज्जुब होगा कि ये वही एनसीबी है जिन्होंने आर्यन खान को ड्रग्स लेने के मामले में गिरफ्तार किया था लेकिन अब ये खबर आ रही है कि एनसीबी की विशेष जांच टीम ने अपनी रिपोर्ट में ये बात कही है कि, ‘आर्यन खान के पास से ड्रग्स बरामद ही नहीं हुआ, वो ड्र्ग्स के लेन-देन से जुड़े नेटवर्क का हिस्सा नहीं थे’. अब ऐसे में सोचने वाली बात ये है कि किस बिनाह पर आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था और इतना वक्त बीत गया, इसके बाद ये रिपोर्ट आ रही है कि वो ड्रग्स के लेन-देन का हिस्सा ही नहीं थे और न ही उनके पास से कोी ड्रग्स ही बरामद हुआ है.
विजय पगारे ने 7 नवंबर को दिया था बयान
खैर, आपको हम बताते चलें कि, इस मामले में एक गवाह विजय पगारे का एक बयान 7 नवंबर 2021 को सामने आया था जिसके मुताबिक, उन्होंने दावा किया था कि, ड्रग्स क्रूज मामले में शाह रुख खान के बेटे आर्यन खान को फंसाया गया है. न्यूज एजेंसी एएनआई से विजय ने कहा था कि, ‘मैंने सुनील पाटिल को 2018-19 में किसी काम के लिए पैसे दिए थे और 6 महीने से उससे पैसे वापस पाने के लिए उसका पीछा कर रहा था. सितंबर में ही हम एक होटल के कमरे में मिले थे. उस वक्त सुनील पाटिल ने भानुशाली से कहा था कि एक खेल हुआ है.

I had given money to Sunil Patil in 2018-19 for some work & for the last 6 months, I was following him to get that money back. This year in Sep, we were in a hotel room where Sunil Patil told Bhanushali that a big game has happened: Vijay Pagare, a witness in drugs-on cruise-case pic.twitter.com/9IwyeKfgKZ
— ANI (@ANI) November 7, 2021

इसके बाद 3 अक्टूबर को मेरी और भानुशाली की मुलाकात हुई. इस दौरान उनसे मुझे पैसे लेने के लिए साथ चलने को कहा. जब मैं उस कार में था उसे ये कहते हुए सुना कि 25 करोड़ रुपये का सौदा तय किया गया था, लेकिन 18 करोड़ और 50 लाख रुपये तय हुआ है. इसके बाद हम एनसीबी कार्यालय पहुंचे जहां मैंने पूरा माहौल देखा. जब मैं वापस होटल लौटा तो टीवी पर देखा कि शाह रुख खान का बेटा पकड़ा गया है. उस वक्त मुझे समझ आया कि बहुत बड़ी गड़बड़ी है और आर्यन खान को फंसाया गया है.’
2 अक्टूबर को हुई थी क्रूज पर छापेमारी
इससे पहले, विजय पगारे ने एक मराठी चैनल के साथ बीतचीत में ये भी आरोप लगाया था कि ये छापेमारी पहले से ही तय थी. विजय पगारे ने 4 नवंबर को मुंबई पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) को अपना बयान दर्ज कराया था और दावा किया था कि 2 अक्टूबर क्रूज पर छापेमारी पूर्व नियोजित थी और आर्यन खान को पैसों के लिए कुछ लोगों के जरिए फंसाया गया था.
ये भी पढ़ें- Marriage: फरहान-शिबानी के बाद अब पंकज कपूर की बेटी सनाह कपूर की होने वाली है शादी, जानिए पूरी डिटेल्स
ये भी पढ़ें- Box Office Report: 100 करोड़ के आंकड़े की तरफ बढ़ रही है ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’, तो ‘भीमला नायक’ और ‘वलीमाई’ भी कर रही है अच्छी कमाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Adblock Detected

We rely on ads to provide you content please disable your ad blocker to continue viewing Our Content

Refresh Page