हाल के वर्षों में वेट वाइप्स का चलन तेजी से बढ़ा है और इसने बहुत कम समय में हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान भी बना लिया है। उपयोग में आसान होने के कारण, आज की माताएं अपने बच्चों को साफ रखने के लिए इसका व्यापक रूप से उपयोग करती हैं। लेकिन यहां एक बात ध्यान देने वाली है कि वेट वाइप्स में पहले से ही साबुन की डली होती है, जो केमिकल से बनी होती हैं। ऐसे में उन्हें अपने नवजात बच्चों के शरीर पर इनका इस्तेमाल करने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए।

स्व-परीक्षा
वेट वाइप्स खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान-
आप चाहते हैं कि आपके बच्चे के पास सबसे अच्छा और स्वस्थ शरीर हो। इसलिए आप किसी सामान्य कपड़े और पानी का उपयोग करने के बजाय गीले पोंछे से नवजात शिशु के शरीर और चेहरे को पोंछें। लेकिन ऐसा करने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि जो उत्पाद आप अपने बच्चे के लिए चुन रहे हैं, वह उनके लिए सही है या नहीं।

– ध्यान दें कि वाइप्स 100% कॉटन से बने होते हैं। कपास एक प्राकृतिक उत्पाद है जो आपके बच्चे की नाजुक त्वचा के अनुकूल है। ये वाइप्स आपके बच्चे की त्वचा को उनकी सूती बनावट के कारण होने वाली जलन से भी बचाते हैं।
– आपको ऐसे वाइप्स पसंद करने चाहिए जो अल्कोहल, पैराबेन्स और बिस्फेनॉल ए से मुक्त हों, जिन्हें केवल पानी से गीला किया जा सकता है। क्‍योंकि ये रसायन आपके बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए गंभीर खतरा पैदा कर सकते हैं।
गीला करना
नवजात शिशुओं के लिए विशेष ‘न्यूबॉर्न वेट वाइप्स’
बाजार में कई खास तरह के वाइप्स भी मिलते हैं जो शिशु की जरूरत के हिसाब से तैयार किए जाते हैं। सबसे पसंदीदा वेट वाइप्स ‘न्यूबॉर्न वेटवाइप्स’ हैं। इसे नवजात शिशुओं की संवेदनशीलता को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इस उत्पाद को भी नई मांओं को ध्यान में रखकर डिजाइन किया गया है ताकि वे इसका इस्तेमाल बच्चे की सफाई में कर सकें।

सावधान रहें कि अपने बच्चे की त्वचा पर नियमित गीले पोंछे का प्रयोग न करें। इनमें इस्तेमाल किए गए उत्पाद जिनके बारे में आप निश्चित नहीं हैं, कई अनावश्यक समस्याएं पैदा कर सकते हैं। खासकर बच्चे के शरीर पर रैशेज और जलन की समस्या भी हो सकती है।

By Sonya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *