सर्दियों में बिस्तर से उठने में आलस बहुत होता है, जिससे फिट रूटीन के साथ-साथ रोजाना के काम भी प्रभावित होते हैं। तो फिर सर्दियों में खाने की इतनी वैरायटी होती है कि दिन भर कुछ न कुछ चलता ही रहता है. ऐसे में होता यह है कि एक्सरसाइज न कर पाने की वजह से मोटापा बढ़ने लगता है और साथ ही कोलेस्ट्रॉल भी बढ़ने लगता है. इसलिए इस मौसम में खुद को एक्टिव और फिट रखने के लिए हैवी वर्कआउट की जगह योगासनों पर ध्यान दें। जिसे आप घर पर ही आसानी से सिर्फ 15-20 मिनट में निपटा सकते हैं। तो किन योगासनों को रूटीन में शामिल करना है, यहां जानें।

UYT
सूर्य नमस्कार का चमत्कार
सूर्य नमस्कार 12 आसनों से मिलकर बना एक संपूर्ण व्यायाम है, जिसकी मदद से आप अपने शरीर को चुस्त, सक्रिय और ऊर्जावान रख सकते हैं। सूर्य नमस्कार मोटापा कम करने से लेकर शरीर का लचीलापन बढ़ाने और शरीर में दर्द और अकड़न को कम करने जैसी कई समस्याओं से राहत दिलाता है। इसलिए इसे सुबह खाली पेट 3 से 5 बार करें। शरीर के साथ-साथ चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने में भी सूर्य नमस्कार कारगर है।  

वृक्षासन और ताड़ासन
यह आसन भी ऐसा है जिसे आप घर पर ही बिना किसी विशेषज्ञ के खुद से कर सकते हैं। यह आसन आपको देखने में भले ही आसान लगे, लेकिन इसके कई फायदे हैं। शरीर ही नहीं ये आसन आपको मानसिक रूप से भी फिट और सक्रिय रखते हैं। कई लोग सर्दियों में बहुत उदास महसूस करते हैं, इसलिए उन्हें इन आसनों का अभ्यास जरूर करना चाहिए। 
यूवाई
प्राणायाम 
उन्हें हल्के में लेने की गलती न करें। यह योग का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। कुछ प्राणायाम मन को शांत करने के साथ-साथ कई शारीरिक समस्याओं से भी छुटकारा दिलाते हैं, जैसे कपालभाति से पेट की चर्बी कम होती है, वहीं भ्रामरी माइग्रेन और गले की खराश को दूर करने में मददगार है। तो वहीं अनुलोम-विलोम के अभ्यास से फेफड़ों की कार्य क्षमता में सुधार होता है। इसलिए योग करने के पांच मिनट बाद भी प्राणायाम जरूर करें। इससे आप पूरे दिन तरोताजा महसूस करेंगे। 

अन्य व्यायाम
इसके अलावा त्रिकोणासन, शलभासन और बालासन भी योगासनों में शामिल हैं जो शरीर को सक्रिय और ऊर्जावान बनाते हैं। इसके साथ ही ये हृदय को स्वस्थ रखते हैं और रक्तचाप को नियंत्रित रखते हैं। योग के जरिए शरीर में रक्त संचार को भी बेहतर किया जा सकता है।

By Sonya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *